डीमैट खाता

खरीदें. बेचें. अंतरित करें

निवेश हुआ आसान

बड़ौदा डीमैट खातों के साथ

डीमैट खाता

क्या आप डीमैट खाता खोलना चाहते हैं?

भारत का प्रमुख बैंक अब आपके लिए लाया है एक ऐसा प्लेटफॉर्म- जहां आप 2 चरणों की प्रक्रिया के माध्यम से अपनी प्रतिभूतियों की खरीद, बिक्री, अंतरण कर सकते हैं:

हमारी डीमैट सुविधाओं का उपयोग करने के लिए आपको निम्नलिखित खाते खोलने हैं:

डीमैट खाता खोलना और उसके लाभ

बैंक ऑफ़ बड़ौदा, भारत का अंतर्राष्ट्रीय बैंक, अब आपको डीमैट खाता खोलने और उसके परिचालन का अवसर प्रदान कर रहा है. हम सेंट्रल डिपोजिटरी सर्विसेज लिमिटेड के साथ-साथ नेशनल सिक्योरिटीस डिपोजिटरी लिमिटेड के डिपोजिटरी प्रतिभागी हैं.

कोई भी व्यक्ति, अनिवासी भारतीय, विदेशी संस्थागत निवेशक, ट्रस्ट, समाशोधन गृह, वित्तीय संस्थाएं, समाशोधन सदस्य और म्युचुअल फंडस डीमैट खाता खोल सकता है.

  • निशुल्क खाते का खोला जाना.
  • निशुल्क प्रथम वर्ष एएमसी.
  • निशुल्क एसएमएस अलर्ट सुविधा.
  • निशुल्क एएसबीए (ऐपलिकेशन सपोर्टेड बाय ब्लॉक्ड एमाउंट).
  • निशुल्क नामांकन.
  • पारदर्शी सेवा प्रभार, कोई छिपा प्रभार नहीं

खाता कैसे खोलें

डीमैट खाता खोलने के लिए आपको खाता खोलने का फॉर्म भरना है और निम्नलिखित दस्तावेजों की प्रतियों के साथ आवेदक का फोटोग्राफ प्रस्तुत करना है. आपके आवेदन की प्रक्रिया पूरी होने पर आपको खाता संख्या की सूचना दी जाएगी:

आवश्यक दस्तावेजों की सूची

खाता खोलने की त्वरित एवं बाधा रहित प्रक्रिया के साथ-साथ आपको ग्राहकों की सुविधा के लिए डिपोजिटरियों द्वारा विशेष रूप से बनाई गई निम्नलिखित सुविधाओं का अतिरिक्त लाभ भी मिलेगा

  • भारत के स्टॉक एक्सचेंज अर्थात एनएसई और बीएसई में सूचीबद्ध किसी भी कंपनी के शेयरों और स्टॉक की खरीद एवं बिक्री.
  • म्युचुअल फंड में ऑनलाइन निवेश करना.
  • आईपीओ में आवेदन करना.
  • फ्युचर और ऑप्शंस में ट्रेडिंग.
  • गलत/जाली सुपुर्दगी के कारण शेयरों की हानि के भय से मुक्ति.
  • लाभांश और जारी बोनस शेयर क्रमश: लिंक खाते और डीमैट खाते में सीधे जमा हो जाते हैं.
  • कोई शेयर अंतरण शुल्क या स्टैम्प ड्यूटी नहीं.
  • एएसबीए (एप्लिकेशन सपोर्टेड बाइ ब्लॉक्ड एमाउंट) की सुविधा के माध्यम से आवेदन किए जा सकते हैं, जहां खाते से राशि नामे नहीं की जाती है और शेयरों के आबंटन पर ही धनप्रेषण किया जाता है.
  • शेयर ट्रेडिंग खाते आपको लाइव मूल्य देखने, सूची देखने और ट्रांजेक्शन करने के अवसर प्रदान करता है. निधियों के निर्बाध अंतरण के लिए डिपोजिट खाता, ट्रेडिंग खाते से लिंक रहता है.

सुविधाएं/यूटीलिटी

  • आईडीईएएस (एनएसडीएल) : शेष राशि और ट्रांजेक्शन को ऑनलाइन चेक करने की सुविधा.
  • स्पीड-ई (एनएसडीएल) : स्पीड ई वेबसाइट https://eservices.nsdl.com. External website that opens in a new window के माध्यम से हमें सुपुर्दगी निर्देश प्रस्तुत करने की सुविधा.
  • ईजी (सीडीएसएल) : कभी भी, कहीं भी धारिता/मूल्यनिर्धारण और अंतरण, कॉर्पोरेट घोषणाओं को जांचने के लिए सीडीएसएल की वेबसाइट www.cdslindia.com External website that opens in a new window के माध्यम से इंटरनेट द्वारा डीमैट खाते का एक्सेस
  • ईजिएस्ट (सीडीएसएल) : प्रतिभूतियों की जानकारी एवं सुरक्षित लेनदेन के निष्पादन हेतु इलेक्ट्रॉनिक एक्सेस.

क्या आप अभी भी असमंजस में हैं..... हम आपकी सहायता के लिए तत्पर हैं.

बैंक ऑफ़ बड़ौदा में हम निम्नलिखित पते पर स्थित हमारे बैक ऑफिस से परिचालन करते हैं :

यदि आप डिपॉजिटरी भागीदार के उत्तर से संतुष्ट नहीं हैं तो, आप स्टॉक एक्स्चेंज/ डिपॉजिटरी से संपर्क कर सकते हैं. :

वेबसाइट संपर्क नंबर ईमेल-आईडी
बीएसई www.bseindia.com External website that opens in a new window 022 22728517 is@bseindia.com
एनएसई www.nseindia.com External website that opens in a new window 1800220058 ignse@nse.co.in
एमसीएक्स-एसएक्स www.mcx-sx.com External website that opens in a new window 022 61129000 info@mcx-sx.com
वेबसाइट संपर्क नंबर ईमेल-आईडी
सीडीएसएल www.cdslindia.com External website that opens in a new window External website that opens in a new window 18002005533 complaints@cdslindia.com
एनएसडीएल www.nsdl.co.in External website that opens in a new window External website that opens in a new window 02224994200 relations@nsdl.co.in

आप सेबी http://scores.gov.in External website that opens in a new window. की साइट पर भी अपनी शिकायत दर्ज़ कर सकते हैं. कृपया अन्य जानकारी, फीडबैक या सहायता के लिए सेबी कार्यालय में या टोल फ्री हेल्पलाइन 1800227575 / 18002667575 पर संपर्क करें.

क्रम सं. शीर्षक विस्तृत
1 खाता खोलने के समय सांविधिक प्रभार करार हेतु फ्रैंकिंग/स्टैम्प प्रभार रु. 100/-
2 अग्रिम/जमाराशि शून्य
3 वार्षिक रखरखाव प्रभार. सामान्य ग्राहक : व्यक्तियों हेतु
  • प्रथम वर्ष निशुल्क (नए खातों हेतु)
  • दूसरे वर्ष से रु. 250 प्रति वर्ष + सेवा कर (एसटी)
व्यक्तियों से इतर हेतु - रु.550/-+सेवा कर
बीएसडीए ग्राहक : व्यक्तियों हेतु
  • प्रथम वर्ष निशुल्क (नए खातों हेतु)
  • इसके पश्चात वित्तीय वर्ष के दौरान यदि धारिता का मूल्य रु. 50000/- तक है तोकोई भी एएमसी नहीं लगाई जाएगी

वित्तीय वर्ष के दौरान केवल रु. 50001/- से रु. 200000/- तक की धारिता के मूल्य पर रु. 100 + सेवा कर के अनुरूप एएमसी लगाया जाएगा.

4 डीमैट न्यूनतम रु. 34/- के साथ प्रति प्रमाणपत्र रु. 3.00+वास्तविक डाक खर्च+सेवा कर .
5 रीमैट एनएसडीएल डीमैट खाता
अधिकतम शुल्क रु. 500000/- या प्रति प्रमाणपत्र रु. 10/- की फ्लैट फी या एनएसडीएल डीमैट खातों हेतु जो भी अधिक हो के अधीन प्रत्येक 100 प्रतिभूतियों पर या उसके भाग पर रु. 10/-+वास्तविक डाक खर्च.सीडीएसएल डीमैट खाता
प्रति आईएसआईएन प्रति वास्तविक डाक खर्च पर रु. 30/- + सेवा कर
6 ट्रांजेक्शन प्रभार सामान्य ग्राहक
प्रति संव्यवहार न्यूनतम रु. 20/-+सेवा कर के अधीन बाज़ार मूल्य का 0.03%. प्रति संव्यवहार न्यूनतम रु. 20/-+सेवा कर के अधीन कर्ज़ लिखतों और वाणिज्यिक पेपर हेतु बाज़ार मूल्य का 0.03%.
बीसीएमएल ग्राहक
प्रति डेबिट अनुदेश पर ट्रांजेक्शन प्रभार रु. 15/-+सेवा कर.
7 केवायसी पंजीकरण
एजेंसी प्रभार
(केआरए प्रभार)
नए केवायसी डेटा की अपलोडिंग हेतु रु. 40/- +सेवा कर+वास्तविक डाक खर्च की दरों पर केआरए प्रभार केवायसी डेटा अपलोड किए जाएंगे.प्रति डाउनलोड केआरए प्रभार रु. 40+सेवा कर की दरों पर लागू होंगें.
वर्तमान ग्राहकों के केआरए में संशोधन हेतु रु. 30/- +सेवा कर+वास्तविक डाक खर्च की दरों पर केआरए प्रभार
8 बंधक निर्माण प्रति आईएसआईएन/प्रति अनुरोध पर रु. 100/-+सेवा कर
9 बंधक निर्माण पुष्टि प्रति आईएसआईएन/प्रति अनुरोध पर रु. 100/-+सेवा कर
10 बंधक निर्माण पुष्टि निशुल्क
11 बंधक समापन पुष्टि निशुल्क
12 गिरवी इनवोकेशन प्रति आईएसआईएन/प्रति अनुरोध पर रु. 100/-+सेवा कर
13 असफल सूचना प्रभार शून्य
14 अन्य प्रभार
  • अतिरिक्त खाता विवरणी पर प्रति अनुरोध रु. 20/-+सेवा कर
  • हस्ताक्षर सत्यापन या अन्य किसी प्रमाणपत्र और फ्रीज़/अनफ्रीज़ पर रु. 50/-+सेवा कर.
  • खाता खोलने के समय 10 पन्नों की एक डीआईएस बुकलेट निशुल्क मिलेगी और इसके बाद सामान्य ग्राहक.
  • हेतु 10 पन्नों की प्रति अनुवर्ती डीआईएस बुकलेट रु. 20/-+सेवा कर पर जारी की जाएगी. बीएसडीए ग्राहक को खाता खोलते समय केवल दो डीआईएस पर्चियां जारी की जाएगी
  • प्रति अनुरोध पते में परिवर्तन/ईसीएस पर रु. 30/- + सेवा कर
15 अतिदेय प्रभार नियत तारीख के बाद सेवा प्रभार के भुगतान पर @ 18% प्रति वर्ष ब्याज भुगतान योग्य होगा.
16 खाता बंद होने के परिणाम
स्वरूप एक डीपी से दूसरी डीपी
को प्रतिभूतियों का हस्तांतरण
खाता बंद होने के परिणामस्वरूप, जब लाभार्थी स्वामी (बीओ) एक ही डीपी के एक खाते से दूसरी शाखा में स्थित खाते में या एक ही डिपोजिटरी या अन्य डिपोजिटरी के डीपी में सभी प्रतिभूतियां अंतरित करता है तब कोई भी प्रभार नहीं लगाया जाएगा बशर्ते कि स्थानांतरण हो रहा है वह डीपी और स्थानांतरणकर्ता डीपी एक ही और समान है अर्थात् सभी दृष्टि से एक-समान हैं.
17 अन्य नियम और
निबंधन
  • डीमैट खाता बंद होने पर एएमसी का रिफंड तिमाही आधार पर होगा. (उदाहरण - यदि खाता जुलाई महीने में बंद होता है, वित्तीय वर्ष की बची हुई अगली दो तिमाहियों अर्थात दिसंबर और मार्च के लिए एएमसी के रिफंड लागू होंगें)
  • ऊपर सूचीबद्ध न हों ऐसी सेवाओं के लिए अलग से प्रभार लगाए जाएंगे.
  • गैर-न्यायिक दस्तावेज या फ्रैंकिंग की लागत ग्राहक द्वारा वहन की जाएगी.
  • एएमसी को छोडकर उपरोक्त सभी प्रभार व्यक्तियों, गैर- व्यक्तियों पर समान रूप से लागू होंगें.
  • ये प्रभार बैंक की विवेकानुसार समय समय पर परिवर्तनों के अधीन होगा.

डिपोजिटरी में प्रयुक्त होने वाले कुछ सामान्य संक्षिप्राक्षर

क्रम सं. प्रयुक्त संक्षिप्ताक्षर अर्थ
1 AOD खाता खोलने संबंधी दस्तावेज
2 BO लाभार्थी स्वामी
3 CDSL सेंट्रल डिपोज़िटरी सर्विसेज़ (इंडिया) लिमिटेड0
4 CM समाशोधन सदस्य
5 CH समाशोधन गृह
6   DEBOS डिपोज़िटरी बैक ऑफिस प्रणाली
7  Demat अमूर्तिकरण
8 DRF डिमेट अनुरोध-पत्र
9 NSDL नेशनल सिक्युरिटीज डिपोजिटरी लिमिटेड
10 POA पते का प्रमाण
11 POI पहचान का प्रमाण
12 RFD डिमेट के लिए अनुरोध
13 ISIN अंतर्राष्ट्रीय प्रतिभूति निर्धारण संख्या
14 RTA कं. के रजिस्ट्रार एवं अंतरण एजेंट
15 NSE नेशनल स्टॉक एक्सचेंज
16 BSE बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज
17 NCFM वित्तीय बाज़ार में एनएससी प्रमाणन
18 CH समाशोधन गृह
19 ACRF खाता बंद करने के अनुरोध का फार्म
20 TRF ट्रांसपोज़िशन अनुरोध फार्म्
21 TRFD ट्रांसमीशन एवं अमूर्तिकरण –अनुरोध-पत्र का फार्म
22 RRF अमूर्तिकरण –अनुरोध-पत्र का फार्म
23 DIS सुपुर्दगी अनुदेश पर्ची ( कम्बाइन स्लिप बुक)
24 PRF गिरवी अनुरोध-पत्र
25 URF गिरवी-मुक्ति अनुरोध-पत्र
26 IRF इन्वॉकेशन अनुरोध-पत्र
27 DOT डिपोज़िटरी परिचालन दल
28 CBODPO केन्द्रीय बैक ऑफिस सहभागी परिचालन
29 DP डिपोज़िटरी सहभागी
30 Easi प्रतिभूति-सूचना में इलेक्ट्रॉनिक-एक्सेस
31 Easiest प्रतिभूति-सूचना में इलेक्ट्रॉनिक-एक्सेस एवं सुरक्षित संव्यवहारों का निष्पादन .
32 Speed -e प्रतिभूति स्थिति – सरल इलेक्ट्रॉनिक डिस्सेमिनेशन
33 Simple मोबाइल फोन के ज़रिये अनुदेशों की प्रस्तुति – सरल लोग –इन
34 IDeAS इंटरनेट आधारित डिमैट खाता-विवरण
35 NISM भारतीय प्रतिभूति बाज़ार संस्थान

करने योग्य और न करने योग्य बातें

यह करें

  • स्टॉक एक्सचेंज के माध्यम से ही कारोबार करें.
  • सेबी पंजीकृत मध्यस्थियों के माध्यम से ही व्यवहार करें.
  • खाता खोलने के लिए आवश्यक सभी औपचारिकताओं को उपयुक्त रूप से पूर्ण करें (ग्राहक पंजीकरण, ग्राहक करार फॉर्म आदि)
  • ‘नो योर क्लाइंट एग्रीमेंट’ के बारे में सूचना प्राप्त कर हस्ताक्षरित करें.
  • संव्यवहार करने से पूर्व प्रतिभूतियोंमें निवेश के साथ जुड़े जोखिम को पढें और पूरी तरह समझ लें.
  • निवेश का निर्णय लेने से पूर्व निवेश के जोखिम रिटर्न प्रोफाइल के साथ –साथ तरलता और सुरक्षा पहलुओं का मूल्यांकन कर लें.
  • संव्यवहार करने से पूर्व आपके ब्रोकर से निवेश से संबंधित सभी प्रश्न पूछ लें और आपकी सभी शंकाओं का समाधान कर लें.
  • सार्वजनिक रूप से उपलब्ध सभी जानकारियों और मूलभूत को मद्देनजर रखते हुए तर्क के आधार पर निवेश करें.
  • अपने ब्रोकर / सब ब्रोकर / डिपॉजिटरी प्रतिभागी को स्पष्ट निर्देश दें.
  • अपने लेनदेन में सतर्क रहें. अपने लेन - देन के लिए अनुबंध नोट का आग्रह रखें.
  • अनुबंध नोट की प्राप्ति होने पर तुरंत सभी विवरणों की जांच करें.
  • एक्सचेंज की वेबसाइट पर उपलब्ध विवरणों के साथ आपके कारोबार विवरणों का मिलान करें. ( www.bseindia.com External website that opens in a new window / www.nseindia.com ). External website that opens in a new window
  • आपके डिपोजिटरी प्रतिभागी से प्राप्त होनेवाली संव्यवहार तथा धारिता दोनों विवरणियों की सूक्ष्मता से जांच करें.
  • आपके निवेश दस्तावेजों की सभी प्रतियों को संभालकर रखें.
  • डीपी द्वारा जारी सुपुर्दगी सूचना पर्चियों (डीआईएस) की बुक को संभालकर रखें.
  • इस बात पर जोर दें कि की डीआईएस नंबर पूर्व मुद्रित हो और खाता नंबर (ग्राहक आईडी) पूर्व मुहरांकित हो
  • यदि आप लगातार संव्यवहार न करते हों तो आपके डीमैट खाते में उपलब्ध करवाई गई फ्रीजिंग सुविधा का प्रयोग करें.
  • निर्धारित समय में भुगतान किया जाना आवश्यक हो ऐसे मार्जिन का भुगतान करें.
  • बिक्री के मामलों में शेयरों की सुपुर्दगी और खरीद के मामलों में राशि का भुगतान निर्धारित समयसीमा में करें.
  • सामान्य बैठकों में व्यक्तिगत रूप से या प्रॉक्सी के माध्यम से भाग लें एवं मतदान करें.
  • आपके अधिकारों और जिम्मेदारियों के प्रति जागरूक रहें.
  • शिकायतों के मामले में निवारण के लिए उचित प्राधिकारी का समय सीमा के भीतर संपर्क करें.
  • पैन कार्ड को पुन: मुद्रित करने के लिए या पैन डेटा में परिवर्तन/सुधार करने के लिए लिए रिक्वेस्ट फॉर न्यू फॉर्म या/और चेंजेस ऑर करेक्शन इन पैन डेटा फॉर्म का प्रयोग करें.
  • आवेदन को अंग्रेजी में बड़े अक्षरों में और जहां तक संभव हो काली स्याही से भरें.
  • नवीन कलर फोटोग्राफ चिपकाएं. (आकार 3.5 सेमी X 2.5 सेमी).
  • बॉक्स के भीतर हस्ताक्षर करें.
  • सही पैन का उल्लेख करें.
  • यदि आवेदन फॉर्म में अंगूठे की छाप ली गई है, तो कृपया प्राधिकृत सील और मुहर के अंतर्गत अंगूठे की छाप को मजिस्ट्रेट या नोटरी पब्लिक या राजपत्रित अधिकारी द्वारा सत्यापित करवाएं.
  • यह सुनिश्चित करें कि आवेदन में उल्लिखित नाम, पीओआई और पीओए में उल्लिखित नाम से पूर्ण रूप से मिलते हों.
  • जहां परिवर्तन आवश्यक हो वहां कॉलम पर टिक करें.
  • परिवर्तन के अनुरोध को समर्थन देने के लिए साक्ष्य उपलब्ध करवाएं.
  • आवेदन में लैंडमार्क के साथ पूरा डाक पता लिखें.
  • पते के कॉलम में सही पिन कोड का उल्लेख करें.
  • टेलीफोन नंबर/ई-मेल आईडी का उल्लेख करें.
  • आवेदन के साथ पैन का साक्ष्य (पैन कार्ड या यदि है, आय कर विभाग द्वारा जारी पैन आबंटन पत्र की प्रति) संलग्न करें.

न करें.

  • अपंजीकृत मध्यस्थियों से व्यवहार न करें.
  • अवास्तविक रिटर्न के वादों के झांसें में न आएं.
  • कही –सुनी और अफवाहों के आधार पर निवेश न करें; निवेश के पहले सत्यापन करें.
  • निवेश में समाहित जोखिमों को नोट करना न भूलें
  • बाज़ार में व्याप्त अफवाहों से प्रभावित न हों.
  • आर्थिक दृष्टि से सुदृढ न हो ऐसी कंपनियों (पैनी स्टॉक) की ट्रेडिंग की मात्रा या मूल्य या अधिप्रमाणित न हो ऐसे उनके पक्ष में लिखे गए लेखों व कहानियों से प्रभावित न हों.
  • कही-सुनी बातों पर विश्वास न करें या क्षणिक क्रय-विक्रय न करें, यह आपके विरुद्ध जा सकता है.
  • ‘हॉट टिप्स’ से प्रभावित न हों.
  • आपकी शंकाओं/शिकायतों के निवारण हेतु उपयुक्त प्राधिकारियों का संपर्क करने में न हिचकिचाएं.
  • आपके डीमैट खाते की हस्ताक्षरित कोरी सुपुर्दगी सूचना पर्ची को असावधानीपूर्वक या किसी के पास न छोड़ें.
  • समय बचाने के लिए हस्ताक्षरित कोरी सुपुर्दगी सूचना पर्ची को डिपोजिटरी प्रतिभागी या ब्रोकर के पास न छोड़ें. याद रखें आपकी असावधानी खतरनाक सिद्ध हो सकती है.
  • आवेदन में किसी भी डेटा को निरस्त करके कोई सुधार न करें या ओवरराइट न करें.
  • फोटोग्राफ को पिन या स्टेपल न करें.
  • बॉक्स के बाहर हस्ताक्षर न करें (अर्थात बॉक्स के बाहर हस्ताक्षर नहीं जाना चाहिए. )
  • आवेदक के नाम पर न हों ऐसे पीओआई और पीओए उपलब्ध न करवाएं.
  • बॉक्स में हस्ताक्षर के साथ कोई भी विवरण (दिनांक. पदनाम, रैंक आदि) न लिखें. पिता के नाम वाले कॉलम में पति का नाम न लिखें.
  • अपने नाम का लघुरूप न लिखें.

आईडीएएस (इंटरनेट आधारित डीमैट अकाउंट- विवरणी)

आईडीएएस(इंटरनेट आधारित डीमैट अकाउंट- विवरणी) एक ऐसी सुविधा है जिसके अंतर्गत ऑनलाइन आधार पर अधिकतम 30 मिनट की समयावधि में डीमैट खाते में अद्यतन शेष एवं लेनदेनों को देखा जा सकता है. यह सुविधा स्पीड-ई के प्रयोक्ताओं, क्लियरिंग सदस्यों जिन्होंने, आईडीएएस की सदस्यता ली है और ऐसे ग्राहक जिनके प्रतिभागी आईडीएएस के लिए पंजीकृत है, के लिए उपलब्ध है.

आईडीएएस की कार्यप्रणाली https://eservices.nsdl.com External website that opens in a new window डीमैट खाताधारकों को (सीएम सहित) अपने डीमैट खातों में अद्यतन शेष एवं लेनदेनों को देखने के लिए एनएसडीएल द्वारा संस्थापित एक सुरक्षित इंटरनेट वेबसाइट है

आईडीएएस की विशेषताएं

1. ग्राहक (लाभार्थी स्वामी)

  • ग्राहक अपने डीमैट खाते में पिछले दिन की क्लोजिंग प्राइस पर आधारित मूल्य के साथ अद्यतन शेष को देख सकते हैं.
  • ग्राहक अपने डीमैट खाते में पिछले 30 दिनों के दौरान हुए लेनदेन को देख सकते हैं.
  • ग्राहक एनएसडीएल डिजिटल हस्ताक्षर के माध्यम से पिछले महीनों (अधिकतम 12 माह) के माहवार विवरणों का डाउनलोड कर सकते हैं, जिसे सिग्नेचर वेरीफिकेशन यूटिलिटी का उपयोग करते हुए सत्यापित किया जा सकता है. सिग्नेचर वेरीफिकेशन यूटिलिटी को इंस्टॉल करने के संबंध में उक्त सिग्नेचर वेरीफिकेशन यूटिलिटी एवं विस्तृत प्रक्रिया https://eservices.nsdl.com पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध है. https://eservices.nsdl.com External website that opens in a new window (न्यू यूजर्स /आईडीएएस के अंतर्गत डाउनलोड लिंक को क्लिक करें) .
  • ग्राहक आईडीएएस को पासवर्ड या स्मार्ट कार्ड/ई-टोकन के द्वारा एक्सेस कर सकते हैं.

2. क्लियरिंग सदस्य (सीएमएस)

सीएम अपने मूल खातों में मौजूदा, पे-इन तिथि, पहले चार एवं अगले चार पे-इन तिथियों के सेटलमेंट के संबंध में होने वाले अद्यतन शेष और लेनदेनों को देख और डाउनलोड कर सकते हैं.

3. अन्य विशेषताएं

मार्केट टाइप एवं सेटलमेंट संख्या के लिए आईएसआईएन वार स्थिति/लेनदेनों को देखें.

निर्धारित मार्केट टाइप और सेंटलमेंट नंबर के लिए ‘अतिदेय’ स्टेटस वाले डिलीवरी-आउट दिशार्निदेशों को देखें.

पूल खाते में लेनदेनों को डाउनलोड करें एवं ग्राहकों के साथ फालोअप के लिए शार्टेजेज को निर्धारित करने हेतु बैंक ऑफिस में इंपोर्ट करें.

बैक ऑफिस सिस्टम को अद्यतन रखने के लिए आईएसआईएन मास्टर डाउनलोड करें.

डीमैट

डीमटीरियलाइजेशन (डीमैट) एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके माध्यम से किसी व्यक्ति द्वारा प्रतिभूतियों की धारिता संबंधी साक्ष्य के भौतिक रूप को रद्द और नष्ट कर दिया जाता है और उसे इलेक्ट्रॉनिक शेष के तौर पर किसी डिपोजिटरी में प्रविष्ट कर प्रतिमोच्य रूप में रखा जाता है.

डीमैट सुविधा पेपररहित व्यापार है जहां प्रतिभूति लेनदेन इलेक्ट्रॉनिक रूप से निष्पादित किए जाते हैं जिससे संबंधित दस्तावेजों के गुम होने और/या जाली लेनदेनों की संभावना कम/न्यून हो जाती है.

डीमैट में ट्रेडिंग डिपोजिटरी अधिनियम, 1996 द्वारा विनियमित है एवं भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) द्वारा इसकी निगरानी की जाती है. वर्तमान में भारत में केवल दो डिपिजिटरी कार्य कर रही हैं और वे हैं नेशनल सिक्योरिटीज डिपोजिटरी लिमिटेड (एनएसडीएल) एवं दि सेंट्रल डिपोजिटरी सर्विसेज (इंडिया) लिमिटेड (सीडीएसएल)

डिपिजिटरी द्वारा दी जा रही मूलभूत सेवाएं

डिपोजिटरी अधिनियम के प्रावधानों के तहत नेशनल सिक्योरिटीज डिपोजिटरी लिमिटेड (एनएसडीएल) एवं दि सेंट्रल डिपोजिटरी सर्विसेज (इंडिया) लिमिटेड (सीडीएसएल) निवेशकों एवं विविध प्रतिभागियों को पूंजी बाजार में विविध सेवाएं उपलब्ध करवाते हैं. यह व्यवस्था जो कि पेपररहित ट्रेडिंग की सुविधा उपलब्ध करवाती है, बाजार प्रतिभागियों को विविध प्रत्यक्ष एवं परोक्ष सेवाएं प्रदान करती है.

डिपोजिटरी सीधे ग्राहक का खाता खोलकर उन्हें सुविधाएं नहीं उपलब्ध करवा सकती. डिपोजिटरी की सेवाएं प्राप्त करने का इच्छुक व्यक्ति, उसके किसी भी डिपोजिटरी प्रतिभागी के माध्यम से डिपोजिटरी के साथ करार करके सेवाएं प्राप्त कर सकता है.

डिपोजिटरी प्रतिभागी (डीपी)

यह डिपोजिटरी अर्थात एनएसडीएल एवं सीडीएसएल के एजेंट के रूप में कार्य करता है. विविध गतिविधियां निर्धारित प्रक्रियाओं के अनुसार ही की जानी चाहिए, ऐसा न होने पर लेखा परीक्षा और निरीक्षण के दौरान संबंधित डिपोजिटरियां, डीपी पर वित्तीय दंड लगाती हैं. अत: विविध गतिविधियां करते समय डिपोजिटरी एवं निवेशकों के बीच संबंधपरक सावधानी बरती जानी चाहिए. वास्तव में डिपोजिटरी प्रतिभागी (डीपी) निवेशक और डिपोजिटरी के बीच मध्यस्थी का कार्य करता है और डिपोजिटरी अधिनियम के तहत दोनों (अर्थात निवेशक और डीपी) के बीच किए गए करार से संचालित होता है.

सीएम : ब्रोकर या क्लीयरिंग सदस्य प्रतिष्ठित स्टॉक एक्सचेंज में निष्पादित ट्रेड के निपटान के उद्देश्य हेतु यह खाता खोल सकते हैं.

डिपोजिटरी व्यवस्था के लाभ

  • शेयरों के अंतरण पर कोई स्टैम्प ड्यूटी नहीं है.
  • त्वरित हस्तांतरण/निपटान (भुगतान के दूसरे ही दिन
  • अंतरण के दौरान गलत सुपुर्दगी, धोखाधड़ी, प्रमाणपत्र गुम होने आदि से छुटकारा
  • कम कागजी कार्य (कम्पनी के साथ हस्तांतरण के लिए कोई हस्तांतरण विलेख भरने, मुहर लगाने और शेयर लॉज करने की आवश्यकता नहीं)
  • धारित स्टॉक की सुरक्षा क्योंकि वे इलेक्ट्रॉनिक रूप में होते हैं अत: उसे भौतिक रूप से घर पर रखने की आवश्यकता नहीं रहती है और प्रमाणपत्र/त्रों के गुम होने या चोरी होने, कटने फटने, धोखाधड़ी आदि की संभावनाओं से बचा जा सकता है.
  • प्रतिभूतियों को गिरवी/दृष्टिबंधक रखने की सुविधा
  • ऑड लॉट में ट्रेडिंग की सुविधा
  • शेयरों का त्वरित हस्तांतरण
  • नामांकन सुविधा उपलब्ध (वैयक्तिकों हेतु)
  • एकल/संयुक्त धारक/कों की मृत्यु होने की स्थिति में नामिती या उत्तरजीवी संयुक्त धारक/कों को शेयरों का सरल अंतरण
  • कंपनी को पात्रता यथा लाभांश और बोनस के आसान और त्वरित निर्धारण की सुविधा
खाता खोलना

डिपोजिटरी (एनएसडीएल/सीडीएसएल) द्वारा प्रस्तुत विभिन्न सेवाओं का लाभ लेने के लिए, एक निवेशक/एक ब्रोकर/एक अनुमोदित मध्यस्थ (ऋण देने व लेने के लिए) को एक डीपी के साथ खाता खोलना होगा.

खातों के प्रकार

लाभार्थी खाता

डीमेट के रूप में प्रतिभूति रखने और अंतर खाता अंतरण द्वारा प्रतिभूतियों को प्राप्त करने और भेजने के इच्छुक निवेशक का उसकी चुनिंदा डीपी के साथ लाभार्थी खाता होना चाहिए.

समाशोधन सदस्य खाता

उन स्टॉक एक्सचेंज के सदस्य ब्रोकर जिन्होंने एनएसडीएल/सीडीएसएल के साथ इलेक्ट्रॉनिक संपर्क स्थापित किए हैं, को डीमेट रूप में किए गए व्यवसाय के निपटान के लिए अपनी इच्छानुसार डीपी के साथ समाशोधन सदस्य खाता खोलना जरूरी है. यह खाता निपटान खाता या पूल खाता के रूप में जाना जाता है. इस खाते से/में क्लियरिंग कार्पोरेशन /हाउस से केवल प्रतिभूतियों का अंतरण और प्राप्ति की जाएगी और तदनुसार, ब्रोकर सदस्य को इस प्रकार के खाते में रखे गए शेयरों पर कोई स्वामित्व (लाभार्थी) अधिकार नहीं होगा.

  • खाता धारक का नाम
  • जन्म तिथि (व्यक्तिगत खातों के लिए)
  • पेशा एवं वित्तीय विवरण
  • पता और फोन/फैक्स नंबर
  • बैंक विवरण जैसे बैंक का नाम, खाते का प्रकार (चालू/बचत), खाता संख्या, शाखा का पता, एमआईसीआर इत्यादि.
  • पैन नंबर
  • नामिती का विवरण (केवल व्यक्तिगत खातों के लिए)
  • नमूना हस्ताक्षर
  • ई-मेल
  • मोबाइल नंबर
  • पत्राचार के लिए पता.
ऑनलाइन ट्रेडिंग

हम आपको सहर्ष सूचित करते हैं कि ऑनलाइन ट्रेडिंग का सॉफ्ट लांच दि. 20 जुलाई, 2012 को किया गया है. कृपया अधिक जानकारी के लिएwww.bobcaps.in External website that opens in a new window और www.barodaetrade.com External website that opens in a new window देखें

संपर्क करें

मुख्य प्रबंधक/ सहायक महाप्रबंधक
बैंक ऑफ बड़ौदा, बड़ौदा सन टावर,
डी.ओ.टी. (डीमैट ऑपरेशन टीम)
सेंट्रल बैक ऑफिस डीपी ऑपरेशनस (सीबीओडीपीओ)
ग्राउंड फ्लोर, सी-34, जी-ब्लॉक
बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स, बांद्रा पूर्व, मुंबई- 400 051
टेलीफ़ोन : 022 6698 4921/4935/4937/4944
फ़ैक्स : 6698 4934
ईमेल : demat@bankofbaroda.com

एसएमएस अलर्ट

बैंक ऑफ़ बड़ौदा आपके सभी डीमैट खातों (बीओबी के साथ) में नि:शुल्क एसएमएस अलर्ट की सुविधा प्रदान करता है.

इस हेतु एसएमएस अलर्ट फॉर्म भरें और उस में अपना मोबाइल नंबर दर्ज़ करें.

एसएमएस अलर्ट आपके लेन-देन की ट्रैकिंग और मॉनिटरिंग में मदद करता है.

लेन-देन प्रक्रिया पूर्ण होने पर आपको तुरन्त सूचना प्राप्त होगी.

स्पीड-ई (एनएसडीएल)

खाता खोलना

डिपॉजिटरी (एनएसडीएल/सीडीएसएल) द्वारा उपलब्‍ध कराई जाने वाली विभिन्‍न सेवाओं का लाभ उठाने के लिए निवेशक/दलाल/ अनुमोदित मध्‍यस्‍थ (उधार देने एवं लेने के‍ लिए) को डीपी के साथ खाता खोलना चाहिए.

खातों के प्रकार

लाभार्थी खाता

प्रतिभूतियों को डिमेटरियलाइज्‍ड (डिमैट) प्रारुप में रखने और प्रतिभूतियों को अंतर-खाता अंतरण द्वारा सुपुर्द/प्राप्‍त करने के इच्‍छुक निवेशक का अपनी पसंद के डीपी के साथ एक खाता, जिसे लाभार्थी खाता कहते है, अवश्‍य होना चाहिए.

समाशोधन सदस्‍य खाता

उन स्‍टॉक एक्‍सचेंजों के सदस्‍य दलाल, जिन्होंने एनएसडीएल/सीडीएसएल के साथ इलेक्‍ट्रॉनिक कनेक्‍टिविटी स्‍थापित की है, को डिमैट प्रारुप में ट्रेड को समाप्‍त एवं निपटारा करने के लिए डिपी के साथ अपनी पसंद का एक समाशोधन सदस्‍य खाता खोलना चाहिए. यह खाता मुख्‍य रुप से निपटान खाता या ‘पूल खाता’ के नाम से जाना जाता है. यह खाता केवल समाशोधन निगम/हाऊस को प्रतिभूतियों का अंतरण या से प्राप्‍त करने के लिए है, अतः सदस्‍य दलाल का इस तरह के खाते में रखे शेयरों पर किसी प्रकार का स्‍वामित्‍व (लाभ) अधिकार नहीं होगा.

डिमैट खाता खोलने की प्रकिया एक बैंक खाता खोलने के ही समान है. डिपी के साथ किसी भी प्रकार का खाता खोलने संबंधी सामान्‍य विवरण नीचे दिए गए हैं

  • खाताधारक का नाम
  • जन्‍म की तारीख (वैयक्तिक खातों के लिए)
  • पेशा और आर्थिक विवरण
  • पता एवं फोन/फैक्‍स नं.
  • बैंक विवरण जैसे बैंक का नाम, खाते का प्रकार (चालू/बचत), खाता संख्‍या, शाखा का पता, एमआईसीआर आदि
  • पैन नंबर
  • नामांकन का विवरण (केवल वैयक्तिक खातों के लिए)
  • नमूना हस्‍ताक्षर
  • ई-मेल पता.
  • मोबाइल नंबर.
  • संपर्क के लिए पता.

खाता खोलने के लिए ग्राहकों को हमारी सीडीएसएल/एनएसबीएल की डिपी सेवा प्रदान करने वाली शाखाओं से संपर्क करना चाहिए.

मायईज़ी (सीडीएसएल)

मैं मायईज़ी के लिए रज़िस्टर कैसे करूँ?

मायईज़ी रजिस्टर करने के लिए सीडीएसएल की वेबसाईट www.cdslindia.com पर लॉगऑन करें और होमपेज में "रजिस्टर ऑनलाइन" पर क्लिक करें.

  • रजिस्टर ऑनलाइन का चयन करें
  • प्रयोक्‍ता प्रकार का चयन करें
  • अपनी रजिस्टर की जाने वाली सुविधा (ईज़ी) को चुनें
  • अपना बीओआईडी (8 अंकोवाली डीपीआईडी/8 अंकोवाली क्लाइंट आईडी) प्रविष्ट करें एवं प्रस्तुति (सबमिट) पर क्लिक करें
  • अपनी लॉगिन आईडी, ईमेल आईडी आदि जैसी जानकारी डालें

सभी खाताधारकों द्वारा हस्‍ताक्षरित किया हुआ आपका रजिस्ट्रेशन फार्म सत्यापन के लिए अपने डीपी के पास जमा कराएं (सुलभ संदर्भ के लिए लॉगिन नाम, ईमेल आईडी नोट कर लें). आपको आपके ईमेल आईडी पर पासवर्ड मिल जाएगा. आप सीडीएसएल की वेबसाईट www.cdslindia.com (Click Myeasi) External website that opens in a new window पर अपना 'यूज़र नेम' और 'पासवर्ड' डालकर मायईज़ी का उपयोग शुरू कर सकते हैं.

बीओ को मायईज़ी के लाभ

  • अपने खाते के धारिता संबंधी विवरण को देखना और/अथवा पिछले 7 दिनों के लेनदेन का प्रिंट लेना.
  • पिछले दिन के बीएसई की दरों के आधार पर अपने डीमेट खाते में विद्यमान शेयरधारिता का मूल्‍य देखना.
  • सिंगल लॉगइन आईडी नाम से अनेक डीमेट खाते देखना
  • अपने डीमेट खाते में रखी प्रतिभूतियों से संबंधित कॉरपोरेट की घोषणाओं/सूचनाओं पर नजर रखना. बीओ को 25 अतिरिक्‍त ISINs , जो उसके डीमेट खाते में नहीं है लेकिन ऐसे ISINs संबंधित कॉरपोरेट की घोषणाओं/सूचनाओं पर वे नजर रखना चाहते हैं, को जोड़ने का विकल्प होता है.

इजिएस्ट (सीडीएसएल)

इजिएस्ट क्या है ?

यह प्रतिभूति सूचना और सुरक्षित ट्रांजेक्शन के क्रियान्वयन के लिए इलेक्ट्रॉनिक एक्सेस का माध्यम है. यह सीडीएसएल द्वारा उपलब्ध कराई जाने वाली एक सुविधा है. इस सुविधा का उपयोग करके खाताधारक अपने डीपी खाते से कोई भी खाते में शेयर अंतरण कर सकते हैं.

सुविधाएं

निम्नलिखित को प्रभावी करने हेतु इंटरनेट द्वारा डेबिट/क्रेडिट ट्रांजेक्शन अनुदेश प्रस्तुत करने के लिए.

  • ऑफ-मार्केट
  • ऑन-मार्केट
  • इंटर डिपोजिटेरी
  • अर्ली पे - इन ट्रांजेक्शन

इंटरनेट द्वारा आप सीधे तौर पर ट्रांजेक्शन के विवरण को देख/डाउनलोड/प्रिंट कर सकते हैं और अपने बैक ऑफिस सॉफ्टवेयर को (यदि कोई हो) अपडेट कर सकते हैं.

अंतिम 30 दिन के ट्रांजेक्शन उपलब्ध हैं .

इजिएस्ट के साथ जुड़ते ही आपको सभी सुविधाएं और लाभ आसानी से स्वतः उपलब्ध हो जाएंगे.

आप नीचे लिंक भी देख सकते हैं

अंतिम देखा गया पेज

X
Back to Top