Bank of Baroda


अंतर्राष्ट्रीय > बाह्य वाणिज्यिक उधार
 





शाखा लोकेटर
डेबिट कार्ड
कैलकुलेटर्स
आवेदन पत्र
संसाधन एव लेख
महत्वपूर्ण संपर्क

विदेशी मुद्रा ऋण | ईसीबी | एफ़सीएनआर (बी) ऋण | निर्यात वित्त | आयात वित्त

कॉरसपोंडिंग बैंकिंग | व्यापार वित्त | अंतर्राष्ट्रीय ट्रेजरी


बाह्य वाणिज्यिक उधार (ईसीबी)

भारत से बाहर ज्ञात बैंकिंग स्रोतों से भारतीय कार्पोरेटों द्वारा प्राप्‍त किए गए मुद्रा ऋणों को ‘बाह्य वाणिज्यिक उधार’ (ईसीबी) कहते हैं. ऐसे विदेशी मुद्रा उधारों का संग्रहण समय-समय पर लागू भारत सरकार/भारतीय रिज़र्व बैंक के बाह्य वाणिज्यिक उधार संबंधी नियमों के तहत किए जा सकते हैं.

बैंक ऑफ़ बड़ौदा द्वारा बाह्य वाणिज्यिक उधार (ईसीबी)

बैंक ऑफ़ बड़ौदा भारतीय कार्पोरेटों के लिए बाह्य वाणिज्यिक उधार (ईसीबी) के माध्‍यम से विदेशी मुद्रा में विभिन्‍न सुविधाएं प्रदान करने एवं इसकी व्‍यवस्‍था करने की दृष्टि काफी सक्रिय एवं अग्रणी रहा है. बैंक ऑफ़ बड़ौदा भारतीय कार्पोरेटों की सभी प्रकार की विदेशी मुद्रा ऋणों की आवश्‍यकताओं के लिए आवश्‍यक व्‍यवस्‍था करता है.

भारत का अंतर्राष्‍ट्रीय बैंक- बैंक ऑफ़ बड़ौदा 24 Vçjttê dtê 100 से ज्‍यादा शाखाओं/कार्यालयों के साथ जिसमें महत्‍वपूर्ण वैश्विक वित्तीय केंद्र (ब्रुसेल्‍स, दुबई, हांगकांग, लंदन, न्‍यूयॉर्क एवं सिंगापुर) इत्‍यादि भी शामिल है, काफी सुदृढ़ स्थिति में हैं और अंतर्राष्‍ट्रीय बाजार से निधि की व्‍यवस्‍था/प्रदान करने की दृष्टि से अन्‍य सभी से बेहतर स्थिति में है.

बैंक ऑफ़ बड़ौदा के पास विदेशी मुद्रा ऋण की व्‍यवस्‍था की दृष्टि से अनेक दशकों का अनुभव है. इस लंबे अनुभव एवं वैश्विक स्‍तर पर व्‍यापक उपस्थिति का आधार बॉब को बाहरी वाणिज्यिक उधार बाजार (ईसीबी मार्केट) को समझने का बेहतर अवसर प्रदान करता है. फलस्‍वरुप यह अपने ग्राहकों को श्रेष्‍ठ शर्तों पर सुविधाएं उपलब्‍ध करा सकता है.

अंतर्राष्‍ट्रीय मर्चेंट बैंकिंग कक्ष (आईएमबीसी)

भारतीय कार्पोरेटों की वैश्विक एवं देशीय स्‍तर पर बढ़ती हुई गतिविधियों के परिपेक्ष्‍य में सस्‍ते एवं शीघ्र वैश्विक निधियों की मांग में तेजी से बढ़ोत्तरी हो रही है. मध्‍यम आकार की कंपनियां भी इस दौड़ में शामिल हो गई हैं. इन सभी का मन्‍तव्‍य परिचालनों को बढ़ाना, वैश्विक स्‍तर पर प्रतिस्‍पर्धी बनाना एवं विदेशी बाजारों तक पहुंच बनाना है.

उन्‍हें, अन्‍य उद्देश्‍यों से निधि प्राप्‍त करने हेतु अंतर्राष्‍ट्रीय कार्पोरेट/मर्चेंट/निवेश बैंकिंग सेवाओं की भी जरुरत होगी.

भारतीय कार्पोरेटों की अंतर्राष्‍ट्रीय मर्चेंट बैंकिंग आवश्‍यकताओं, विशेष रुप से बाहरी वाणिज्यिक उधार, पर विशेष ध्‍यान देने हेतु बीसीसी, मुंबई में अंतर्राष्‍ट्रीय मर्चेंट बैंकिंग कक्ष की स्‍थापना की गई है.

अंतर्राष्‍ट्रीय मर्चेंट बैंकिंग कक्ष निम्‍नलिखितानुसार विभिन्‍न उत्‍पादों/गतिविधियों के माध्‍यम से कार्पोरेट/मर्चेंट/निवेश बैंकिंग सेवाएं उपलब्‍ध करा रहा है :

  • विदेशी मुद्रा ऋण/बाहरी वाणिज्यिक उधार की व्‍यवस्‍था करना/प्रदान करना.
  • भारतीय कार्पोरेटों को उनके विदेशी कार्यालयों, संयुक्‍त उपक्रमों, अनुषंगियों के लिए उन स्‍थानों पर सभी प्रकार की बैंकिंग लेन-देन सुविधा प्रदान करना जहां हमारी शाखाएं मौजूद हैं.
  • विदेशी मुद्रा/ डेरिवेटिव उत्‍पाद उपलब्‍ध कराना.
  • क्रेता ऋण/आपूर्तिकर्ता ऋण उपलब्‍ध कराना.
  • सिंडिकेटेड ऋण की व्‍यवस्‍था करना/जिम्‍मेदारी लेना/भागीदारी करना.
  • द्विपक्षीय ऋणों/ सामूहिक व्‍यवस्‍थाओं के माध्‍यम से कार्पोरेटस के लिए निधि की उगाही.
  • बांड्स, एफआरएन, एफसीसीबी इत्‍यादि हेतु अंतर्राष्‍ट्रीय बाजार से निधि की उगाही करना. .
  • अन्‍य देशों की निर्यात क्रेडिट एजेंसियों से ऋण की व्‍यवस्‍था करना.
  • विदेशी निवेशों के संबंध में परामर्श सेवाएं प्रदान करना. .
  • कार्पोरेट की विशिष्‍ट आवश्‍यकताओं के अनुकूल नवोन्‍मेषी समाधान प्रदान करना.
  • मस्‍तूल-पाल, जहाज, एयरक्राफ्ट इत्‍यादि जैसी विशिष्‍ट आस्तियों की खरीद हेतु व्‍यवस्थित वित्तीयन.
  • देश से बाहर के ऋणों का वित्तीयन एवं पुनर्गठन.

ग्‍लोबल सिंडिकेशन केंद्र, लंदन (यूके) रिजनल सिंडिकेशन केंद्र, दुबई (यूएई)

बैंक ने भारतीय/अभारतीय कार्पोरेटों को प्रतिस्‍पर्धी मूल्‍य पर विदेशी मुद्रा/सेवा उपलब्‍ध कराने हेतु विशिष्‍ट समाधान प्रदान करने के लिए ग्‍लोबल सिंडिकेशन केंद्र, लंदन एवं रिजनल सिंडिकेशन केंद्र, दुबई की स्‍थापना की है.

इसके पास भारत एवं विदेश में ऋण सिंडिकेशन/अन्‍य सेवाओं की व्‍यवस्‍था के क्षेत्र में अनुभव से युक्‍त पेशेवर एवं विशेषज्ञ टीम है.

इच्‍छुक कार्पोरेट/संस्‍थानिक ग्राहक निम्‍नलिखित में से किसी भी अधिकारी से संपर्क कर सकते हैं :

  • कार्पोरेट वित्तीय सेवाएं शाखा (सीएफएस) (शाखा लोकेटर पर क्लिक करें)
  • कार्पोरेट बैंकिंग सेवाएं (सीबीबी) (शाखा लोकेटर पर क्लिक करें)
  • अंतर्राष्‍ट्रीय व्‍यवसाय शाखाएं (आईबीबी) (शाखा लोकेटर पर क्लिक करें)
  • नजदीकी चुनिंदा शाखाएं (शाखा लोकेटर पर क्लिक करें)
  • • शहर की मुख्‍य शाखा (शाखा लोकेटर पर क्लिक करें)

या आप निम्‍नलिखित से सीधे संपर्क कर सकते हैं-

सहायक महाप्रबंधक,
अंतर्राष्‍ट्रीय प्रभाग, बीसीसी,
मुंबई. टेलिफोन नं. 91-22-5698 5408
फैक्‍स नं. : 91-22- 26523509
intl-mktg.bcc@bankofbaroda.com

संबंधित शाखा, कंपनी द्वारा दी जाने वाली वित्तीय एवं अन्‍य सूचनाओं जैसे कि कोई अन्‍य रुपए क्रेडिट सुविधा का निर्धारण/मूल्‍यांकन करेगी. कार्पोरेट को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उनकी आवश्‍यकताएं भारतीय रिज़र्व बैंक/भारत सरकार की बाह्य वाणिज्यिक उधार नीति के अनुकूल हों. बाहरी वाणिज्यिक उधार नीति/दिशानिर्देश भारतीय रिज़र्व बैंक
 ( www.rbi.org.in) की साइट पर उपलब्‍ध है.

लागत

विदेशी मुद्रा ऋण/सेवाओं के लागत से तात्‍पर्य है कि कंपनी को पड़ने वाली कुल लागत में निम्‍नलिखित का समावेश होगा -

  • ब्‍याज दर/मार्जिन (यह इच्‍छुक ऋणकर्ताओं की जोखिम प्रोफाइल से संबद्ध है)
  • अपफ्रंट शुल्‍क एवं अन्‍य शुल्‍क की व्‍यवस्‍था

व्‍यवस्‍था शुल्‍क/अपफ्रंट शुल्‍क की एकबारगी लागत के रुप में व्‍यवस्‍था करना. मूल्‍यन, ऋणकर्ता की क्रेडिट रेटिंग, ऋण की अवधि, उपलब्‍ध विदेशी मुद्रा की मांग एवं आपूर्ति, बाजार स्थिति इत्‍यादि पर निर्भर करता है. बाजार की स्थिति के अनुसार मूल्‍यों में परिवर्तन होता रहता है और ये सामान्‍यतः 30 दिनों की अवधि के लिए वैध होते हैं. लागत के अलावा कानूनी/दस्‍तावेजी/आऊट ऑफ पौकेट इत्‍यादि खर्च भी होते हैं. ये सामान्‍यतः यूएस डॉलर 15000 अथवा यूएस डॉलर 20000 एवं कुछ मामलों में अधिक भी होते हैं.

प्रस्‍तावित लागत अनियत है एवं इस पर चर्चा एवं बातचीत की जा सकती है :
सिंडिकेटेड ऋणों के माध्‍यम से दिए जाने वाला ईसीबी- विभिन्‍न चरण संक्षेप में -

  • ईसीबी के नियम एवं शर्तों पर बातचीत एवं बॉब के साथ इसे अंतिम रुप देना.
  • बॉब को ईसीबी की व्‍यवस्‍था हेतु अधिदेश देना. .
  • सिंडिकेशन संबंधी आवश्‍यकता के अनुरुप बैंक आद्यंत समाधान उपलब्‍ध कराएगा.
  • भारतीय रिज़र्व बैंक/भारत सरकार से अपेक्षित अनुमोदन प्राप्‍त करना.
  • ऋण करार निष्‍पादित करना एवं प्रति‍भूतियों पर प्रभार, यदि कोई हो, सृजित करना.
  • धारा 10(15)(iv) के तहत धारिता कर से छूट प्राप्‍त करना, यदि लागू हो.

अधिक विवरण हेतु बैंक ऑफ़ बड़ौदा की अपनी नजदीकी शाखा से संपर्क करें.






 
बैंकिंग कोड्स एंड स्टैंडर्ड्स बोर्ड ऑफ़ इंडिया | बड़ौदा अकादमी | व्यवसाय दायित्व रिपोर्ट | बैंकों की सूक्ष्म एवं लघु उद्यमों के लिए प्रतिबद्धता संहिता | कॉर्पोरेट गवर्नेंस | बासल III के तहत प्रकटीकरण | आर्थिक परिदृश्य | वित्तीय आंकडें | भारत में छुट्टियाँ | मानव संसाधन | सूचना प्रौद्योगिकी संबंधी आधारभूत संरचना | फोटो गैलरी | सूचना अधिकार अधिनियम | शेयर धारिता पैटर्न | शेयर मूल्य चार्ट | साइटमैप | विंडोज इस्तेमाल की शर्तें,स्टोर एप्लिकेशन | वेबकास्ट


© 2017 Bank of Baroda. All rights reserved. Disclaimer For optimum view of this site you must have IE 5.0 and 1024 by 768 pixels
     
chic logo