शहरी निर्धनों को मकान हेतु ब्याज सब्सिडी योजना

अपने घर में खुशियों
को नए रूप में मनाएं.

मिस्ड कॉल करे : 846 700 1111

बड़ौदा आवास ऋण

शहरी निर्धनों को मकान हेतु ब्याज सब्सिडी योजना

भारत सरकार की महत्त्वपूर्ण नीतिगत कार्यबिन्दुओं में से एक है ''सभी की पहुंच में मकान''. इसीके अंतर्गत आवास और शहरी गरीबी निर्मूलन मंत्रालस ने ब्याज सब्सिडी योजना बनाई है, जो शहरी क्षेत्रों के आर्थिक दृष्टि से कमजोर और अल्प आय वर्गों के तबकों की मकान की जरूरत को पूरा करने का एक अतिरिक्त उपाय होगा. इस योजना में आर्थिक दृष्टि से कमजोर और अल्प आय वर्गों के तबकों को घर खरीदने या घर के निर्माण र्क लिए ब्याज सब्सिडी देने का प्रावधान है.

प्रयोजन

योजना शहरों के सिर्फ आर्थिक दृष्टि से कमजोर और अल्प आय वर्गों के तबकों के लिए लागू होगी.

  • ईडबल्यूएस – रु. 5000 की औसत मासिक आय वाले परिवार
  • एलआईजी – रु. 5001 से रु. 10000 तक की औसत मासिक आय वाले परिवार
  • वेतनभोगी व्यक्तियों हेतु: पिछले -3- माह के सकल वेतन के औसत का 48 गुना
  • अन्य हेतु – पिछले -2- वर्षों की वार्षिक आय के औसत का अधिकतम -4- गुना

कितनी राशि का ऋण दिया जा सकता है

  • आर्थिक दृष्टि से कमजोर वर्ग के लिए - अधिकतम राशि रु. 1 लाख - 20 वर्षों के लिए, कम से कम 25 वर्गफीट के मकान के लिए
  • अल्प आय वर्ग के लिए 1,60,000 - 20 अधिकतम राशि रु. 40 वर्षों के लिए, कम से कम 1/- लाख पर ही होगी. ऋण की अतिरिक्त राशि पर कोई सब्सिडी नहीं दी जाएगी.

भूखंड खरीदने के लिए कोई ऋण नहीं.

मार्जिन

न्यूनतम 20%

चुकौती

प्रारंभिक स्थगन अवधि के साथ अधिकतम 20 वर्ष.

प्रतिभूति

ऋण से खरीदे गए / निर्मित मकान का बंधक (रु. 1लाख तक के ऋण के लिए कोई सहायक प्रतिभूति / समूह की गारंटी को छोडकर कोई तृतीय पक्ष की गारंटी नहीं मांगी जाएगी.)

जैसा कि बड़ौदा गृह ऋण पर लागू है

सब्सिडी की प्रतिभूति

योजना के तहत अधिकतम मूल राशि रु. 1लाख तक, 5% ब्याज सब्सिडी (निवल वर्तमान मूल्य के) उपलब्ध होगी..

गृह ऋण पूछताछ के लिए

समर्थन के किसी भी प्रकार के लिए कॉल करें और हानि या चोरी के लिए हमें रिपोर्ट करें

टोल फ्री (24x7)

1800 220 400

संपर्क केंद्र

1800 223 344, 1800 102 4455 (24x7)

EMI Calculator

APR Calculator
  • Total Interest
  • Total Amount
Monthly Payment Rs. 1,977.00

Apply Now

अंतिम देखा गया पेज

X
Back to Top