बंधक ऋण

अपने सपनों को साकार करने में
अपनी संपत्ति की सहायता लें.

बड़ौदा मॉर्गेज ऋण

बंधक ऋण

बैंक ऑफ बड़ौदा आपको देता है, अपनी अचल संपत्ति के पेटे ऋण और ओवरड्राफ्ट का नवोन्मेषी जोड, जो आपको दे परिवर्तनशील चुकौती का विकल्प.

  • निष्क्रिय संपत्ति का उपयोग - अन्यथा निष्क्रिय से अतिरिक्त आय प्राप्त करें.
  • आपकी जरूरत के अनुसार धनराशि आहरित करें और ब्याज की लागत बचाएं.
  • अतिरिक्त धनराशि / नियमित आय / वेतन को जमा कराएं और ब्याज बचाएं.
  • पहले जमा कराई गई धनराशि के आहरण की सुविधा.
  • आपकी जरूरत के अनुसार ऋण या ओवरड्राफ्ट रूप में प्राप्त किया जा सकता है.

वेतनभोगी कर्मचारी/पेशेवर, स्व नियोजित एवं अन्य, जो न्यूनतम पिछले 3 वर्षों से आय कर निर्धारित हैं.

प्रोसेसिंग शुल्कम

  • ऋण राशि का 0.20%
  • अधिकतम राशि रू.10,000/-
  • प्रारंभिक शुल्कु: Rs.7,500/-

पात्रता

वैयक्तिक

वेतनभोगी कर्मचारी/पेशेवर, स्व नियोजित एवं अन्य, जो न्यूनतम पिछले 3 वर्षों से आय कर निर्धारित हैं.

आयु

  • न्यूनतम : 21 वर्ष
  • अधिकतम : 60 वर्ष

उद्देश्य

वित्तीय सट्टेबाजी के अलावा किसी भी उद्देश्य हेतु. रीयल एस्‍टेट विकास, प्रॉपर्टी डीलरों/ब्रोकरों, शेयर/स्टॉक ब्रोकरों एवं किसी सट्टेबाजी की गतिविधियों में लगे व्यक्तियों से प्राप्त प्रस्तावों पर विचार नहीं किया जाएगा.

सुविधा का प्रकार

  • मीयादी ऋण/मांग ऋण
  • ओवरड्राफ्ट

मार्जिन

अचल संपत्तियों के वसूली योग्य मूल्य का 40%

प्रतिभूति

अचल संपत्तियों को बंधक

  • आवासीय संपत्ति (आवास/फ्लैट)
  • वाणिज्यिक संपत्ति (बिल्डिंग/ भूमि एवं बिल्डिंग)
  • भूमि का भूखंड (कृषियोग्य भूमि नहीं)

सीमा

  • न्यूनतम: रु. 2.00 लाख
  • अधिकतम: (उधारकर्ताओं की सभी श्रेणियों हेतु)
    • महानगरीय शाखाएं : रु. 10.00 करोड़
    • शहरी शाखाएं : रु. 5.00 करोड़
    • अर्द्ध शहरी शाखाएं : रु. 3.00 करोड़
    • ग्रामीण शाखाएं : रु. 25 लाख

चुकौती अवधि

  • मीयादी ऋण : 120 महीने
  • ओवरड्राफ्ट : 12 महीने; वार्षिक समीक्षा के अधीन

आय गुणक

वेतनभोगी

  • रु. 75000/- तक की सकल मासिक आय : सकल मासिक आय का 30 गुना
  • रु. 75000/- से अधिक एवं रु. 3.00 लाख तक सकल मासिक आय : सकल मासिक आय का 48 गुना
  • रु. 3.00 लाख से अधिक सकल मासिक आय: सकल मासिक आय का 60 गुना

अन्य

  • रु. 5 लाख तक की सकल वार्षिक आय: सकल वार्षिक आय का -5- गुना
  • रु. 5 लाख से अधिक एवं रु. 8 लाख तक : सकल वार्षिक आय का 6 गुना
  • रु. 8 लाख से अधिक की सकल वार्षिक आय : सकल वार्षिक आय का 8 गुना

गुणक हेतु आय पर निम्नानुसार विचार किया जाए

  • वेतनभोगी व्यक्तियों हेतु : पिछले 3 महीनों की सकल मासिक आय का औसत
  • अन्य हेतु : पिछले 3 महीनों की सकल वार्षिक आय का औसत

चुकौती क्षमता

उधारकर्ताओं की सभी श्रेणियों हेतु

उधारकर्ताओं की सभी श्रेणियों हेतु
रु. 75,000/-की सकल मासिक आय हेतु 50%
रु. 75000/- से अधिक एवं रु. 3.00 लाख की सकल मासिक आय 60%
रु. 3.00 लाख से अधिक की सकल मासिक आय 70%

एकीकृत प्रोसेसिंग प्रभार

एकीकृत प्रोसेसिंग प्रभार (जिसमें प्रोसेसिंग प्रभार, दस्तावेजीकरण प्रभार, दस्तावेज सत्यापन/वेटिंग प्रभार, पूर्व निरीक्षण (कॉन्टैक्ट पॉइंट सत्यापन-सीपीवी) प्रभार, एक बारगी निरीक्षण पश्चात के प्रभार, विधिक मत हेतु एडवोकेट प्रभार, मूल्यांकन हेतु मूल्यांकन प्रभार (मंजूरी के समय एक बारगी), ब्यूरो रिपोर्ट प्रभार, सरसाई प्रभार, आईटीआर सत्यापन प्रभार) निम्नलिखित विवरणों के अनुसार लगाया जाएगा

मीयादी ऋण हेतु

ऋण राशि के 1% के साथ अधिकतम रु.1,50,000/-
न्यूनतम : रु. 7, 500/- (अग्रिम) **. मंजूरी बताते समय प्रोसेसिंग प्रभार की शेष राशि वसूल की जाएगी.

ओवरड्राफ्ट हेतु

  • रु. 3.00 करोड़ तक: 0.35% सीमा के साथ अधिकतम: रु. 75,000/-
  • रु. 3.00 करोड़ से अधिक: किसी भी अधिकतम सीमा के साथ 0.25%

न्यूनतम

रु. 7,500/- (अग्रिम)**. मंजूरी बताते समय प्रोसेसिंग प्रभार की शेष राशि वसूल की जाएगी. ** उपरोक्त अग्रिम प्रभार तभी लगाए जाएंगे जब केवल एक संपत्ति प्रतिभूति के रूप में रखी गई हो. यदि दो या अधिक संपत्ति प्रतिभूति के रूप में रखी गई हो तो उपरोक्त उल्लिखित न्यूनतम अग्रिम प्रभार के अतिरिक्त रु. 7500/- प्रति अतिरिक्त संपत्ति लगाया जाएगा.

निरीक्षण

बैंक के पास किसी भी समय उधारकर्ता की संपत्ति का निरीक्षण करने का अधिकार है एवं दूसरे निरीक्षण पश्चात निरीक्षणों के लिए उधारकर्ता से प्रति निरीक्षण रु. 100 + जीएसटी लगाया जाएगा.

विधिक मत एवं मूल्यांकन प्रभार

प्रस्तावित संपत्ति की टाइटल स्पष्ट, पूर्णतया भार रहित एवं बैंक के वकील/अधिवक्ता की संतुष्टि के अनुसार बाजारयोग्य होनी चाहिए. शीर्ष सत्यापन एवं संपत्ति का मूल्यांकन बैंक के सूचीबद्ध अधिवक्ता/मूल्यांकनकर्ता द्वारा की जानी चाहिए.

रु. 1.00 करोड़ से अधिक के मामले में, संपत्ति का दूसरा मूल्यांकन प्राप्त किया जाना चाहिए जिससे बैंक को संतोष हो सके. सीमा की गणना करते समय -2- मूल्यांकनों में से कम वाले पर विचार किया जाना चाहिए.

अन्य व्यय

दस्तावेजों के निष्पादन हेतु स्टैम्प ड्यूटी, पंजीकरण प्रभार जैसे प्रभारों में राज्य दर राज्य अंतर होता है एवं ऋण हेतु अन्य संबंधित प्रभार/व्यय का वहन उधारकर्ता द्वारा किया जाएगा.

भूमि की लागत को छोड़कर पूर्ण मूल्य हेतु मूल्यांकन रिपोर्ट के अनुरूप संपत्ति का बीमा कराया जाएगा. प्रभारों का वहन उधारकर्ता/ओं द्वारा किया जाएगा.

ऋण सूचना रिपोर्ट

बैंक किसी भी क्रेडिट सूचना ब्यूरो से जांच करने एवं ऋण सूचना रिपोर्ट प्राप्त करने के लिए प्राधिकृत है. बैंक उधारकर्ता को सूचित किए बिना समय-समय पर भारत सरकार या भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा अनुमोदित क्रेडिट ब्यूरो को कोई भी ऋण संबंधी जानकारी प्रकट कर सकता है.

Apply Now

Please fill in the below details.

( * ) Marked fields are mandatory

All fields are mandatory

Name *
Email *
Mobile *
State *
City *
Captcha Code *
Captcha

EMI Calculator

APR Calculator
  • Total Interest
  • Total Amount
Monthly Payment Rs. 1,977.00

Apply Now

अंतिम देखा गया पेज

X
Back to Top