अल्पावधि ( 12 माह से कम)

अपनी धन की सुरक्षा के साथ-साथ
उसे निरंतर बढ़ता देखें.

बड़ौदा सावधि जमा खाते

मीयादी जमाएं ( 12 महीनों से अधिक)

यह दीर्घावधि निवेशों के लिए आदर्श है. संरक्षित धन जो अच्छा प्रतिलाभ देता है और आसानी से समाप्त किया जा सकता है.

  • दीर्घ अवधि के लिए भी सरल तरलता
  • जमा की अवधि के बढ़ने के साथ सानुपातिक ब्याज दर में बढ़ोत्तरी

अन्य लाभ

  • किसी गारंटर या प्रसंस्करण शुल्क या, कोई भी फार्म भरे बिना जमा राशि (उपचित ब्याज सहित) के 95% तक की राशि के एवज में ओवरड्राफ्ट/ऋण का लाभ लें.
  • बैंक की जमाओं के एवज में ऋण और अग्रिमों पर कोई भी प्रसंस्करण शुल्क नहीं लिया जाएगा
  • रूपए 5 लाख तक की जमाओं के लिए, समय पूर्व आहरण के लिए कोई भी ब्याज नहीं लिया जाएगा, बशर्ते यह बैंक में न्यूनतम 12 महीनें की अवधि से अधिक समय तक रही हो.
  • परिपक्व होने पर जमा राशि का नवीकरण स्वत: हो जाएगा, जिससे आपके द्वारा अनुदेश न देने पर भी ब्याज की हानि नहीं होगी.
  • सरकार इस जमा राशि को बंधक के रूप में स्वीकार करती है
  • गैर-निधि आधारित सुविधाओं के लिए मार्जिन मुद्रा के रूप में स्वीकार
  • नामांकन के लिए प्रावधान.
    • रु 1000/- की न्यूनतम राशि के साथ खाता खोला जा सकता है तथा बाद में रु. 100/- के गुणकों में राशि जमा की जा सकती है.
    • जमा की अवधि
      • जमा की न्यूनतम अवधि: 12 माह
      • जमा की अधिकतम अवधि : 120 माह
    • चकबृद्धि ब्याज की गणना तिमाही आधार पर की जाती है और इसका भुगतान मासिक (ब्याज राशि के रियायती मूल्य पर देय), तिमाही, छमाही, आधार पर किया जा सकता है.
    • ब्याज दर परिपवक्ता अवधि पर आधारित है
    • ब्याज का भुगतान टीडीएस (स्रोत पर कर की कटौती) के अधीन है
    • रु. 10,000/- की जमाएं टीडीएस के अधीन हैं.
    • रु.10,000/- से अधिक की जमाओं पर वरिष्ठ नागरिकों को.5% की दर से अतिरिक्त ब्याज का भुगतान किया जाएगा.
    • आवश्यक दस्तावेज़:
      • पासपोर्ट आकार का फोटो
      • आवास का प्रमाण
      • बैंक मानदंडों के अनुसार परिचय

अंतिम देखा गया पेज

X
Back to Top