कार्यशील पूंजी वित्तपोषण

क्योंकि सबकी
आवश्यकताएं अलग हैं.

आपके सपनों को साकार करने के लिए
प्रस्तुत हैं, ऋण की विविध श्रृंखलाएं.

कार्यशील पूंजी वित्तपोषण

एक फर्म की कार्यशील पूंजी वह धनराशि है जो उसकी चालू आवश्यकताओं (जो एक वर्ष से कम में देय हो) की पूर्ति में सहायक होती है तथा अर्जक आस्तियों के अधिग्रहण में मदद करती है.

बैंक ऑफ़ बड़ौदा निगमों को, उनके परिचालनगत व्यय, इन्वेंटरी खरीद, प्राप्तियों के वित्तपोषण को पूरा करने के लिए प्रत्यक्ष निधि अथवा साख पत्र के माध्यम से कार्यशील पूंजी वित्तपोषण उपलब्ध कराता है.

  • निधि आधारित सुविधाएं अर्थात, बैंक आस्तियों की वास्तविक खरीद हेतु निधि एवं सहायता प्रदान करता है अथवा व्यावसायिक व्यय की पूर्ति हेतु निधि उपलब्ध कराता है.
  • गैर-निधि आधारित सुविधाएं अर्थात, बैंक ग्राहक की ओर से आपूर्तिकर्ता, सरकारी विभाग से उधार पर ली गई वस्तुओं एवं सेवाओं के लिए साख पत्र जारी कर सकता है अथवा गारंटी दे सकता है.
  • भारतीय एवं विदेशी दोनों मुद्राओं में उपलब्ध.

अंतिम देखा गया पेज

X
Back to Top